करियर की शुरुआत में सेट पर उल्टियां साफ करती थीं रवीना टंडन, कहा -कभी नहीं सोचा था कि एक्टर बनूंगी

रवीना टंडन को फिल्म KGF 2 में उनकी परफॉर्मेंस के लिए जमकर तारीफें मिल रही हैं। रवीना ने हाल ही में एक इंटरव्यू में खुलासा किया कि एक फिल्मी फैमिली से बिलॉन्ग करने के बाद भी उन्होंने अपने करियर की शुरुआत स्टूडियो के फर्श पर उल्टियां साफ करने से की थी। साथ ही रवीना ने बताया कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि वो एक्ट्रेस बन जाएंगी।

कैसे बनीं मॉडल से एक्टर

रवीना ने आगे बताया कि वो फिल्मों में आने से पहले मॉडलिंग किया करती थीं। जब वो कक्कड़ के साथ काम कर रही थीं तब अगर कोई मॉडल सेट पर नहीं पहुंच पाती थी तो डायरेक्टर रवीना को मेकअप करके पोज देने के लिए कहते थे। तब रवीना ने डायरेक्टर के लिए फ्री में मॉडलिंग करने के बजाय इससे कुछ पैसा कमाने का सोचा। इसके बाद रवीना को फिल्मों के ऑफर आने लगे। रवीना ने बताया कि उन्हें उस वक्त न तो एक्टिंग आती थी, ना डांस और ना ही डायलॉग बोलने आते थे। सब उन्होंने काम करते हुए धीरे-धीरे सीखा।

रवीना टंडन और उनकी बेटी

टंडन की बेटी का नाम राशा है इनकी बेटी बचपन से ही काफी पोजेस देती रहती हैं राशा बचपन से ही काफी प्यारी और खूबसूरत रही है लेकिन बड़े होने के बाद वे बचपन से ज्यादा और भी ज्यादा खूबसूरत हो गई है राजा को देखने के बाद कोई भी व्यक्ति यही कहेगा कि रास्ता एक बॉलीवुड एक्ट्रेस बनने के लिए बिल्कुल तैयार हैं। लेकिन निराशा की दिलचस्पी एक्टिंग में नहीं है।

पहली फिल्म के लिए मिला फिल्मफेयर अवॉर्ड

रवीना टंडन ने इंडस्ट्री में अपने करियर की शुरुआत साल 1991 में आई फिल्म ‘पत्थर के फूल’ से की थी। जिसके लिए उन्हें फिल्मफेयर अवॉर्ड ‘लक्स न्यू फेस ऑफ द ईयर’ से नवाजा गया था। रवीना को 2001 में उनकी फिल्म ‘दामन’ के लिए नेशनल फिल्म अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था।

 

+