दुनिया की कुछ सबसे अलग और अजीब बीमारियां, पढ़िए पूरी खबर।

बहुत सारे लोग ऐसे हैं जो अजीबो-गरीब बीमारियों के शिकार हैं। बीमारियां भी ऐसी, जिनका आज भी डाक्टर कोई समाधान नहीं निकाल पाएं हैं। आपको ऐसे लोग भी बड़ी आसानी से मिल जाएंगे, जिनके शरीर पर जरूरत से ज्यादा बाल हैं लेकिन जिन लोगों की बात हम कर रहे हैं उनकी बीमारी ने भयानक रूप ले लिया है। 

वो लोग जो बालों की भयंकर बीमारी से जूझ रहे हैंः

 

  1. मेक्सिको में जन्मे जेसस एसवेस अपने परिवार के दूसरे ऐसे व्यक्ति थे जो हायपरट्राईकोसिस नाम की बीमारी से ग्रस्त हैं। उनके पूरे चेहरे पर बाल आते हैं। उनकी शादी हो चुकी है और दो बेटियां भी हैं लेकिन उनकी एक बेटी इसी बीमारी की शिकार है।
  2. थाईलैंड की रहने वाली सुपात्रा सासुफन को जिंदगी भर दूसरे बच्चे ‘बंदर’, ‘भेड़िया’ और न जाने क्या क्या कह कर चिढ़ाते रहे हैं लेकिन अब गिनीज बुक में नाम आने से वह अपने स्कूल में बहुत चर्चित हो गई है।
  3. पृथ्वीराज पाटिल मुंबई के पास एक गांव संगली में एक किसान परिवार में पैदा हुए थे। उनके पूरे चेहरे पर घने बाल आते थे। उनके माता-पिता ने आयुर्वेद और कई ऑपरेशन के जरिए इसे दूरे करने की कोशिश की लेकिन कोई असर नहीं हुआ।
  4. विक्टर लैरी और गेब्रियल डैनी रैमोस गोम्ज भी दो ऐसे भाई हैं, जिनका पूरा चेहरा ही बालों से भरा है। उन्हें एक टीवी सीरियल में रोल भी ऑफर हुआ था।
  5. जूलिया पास्त्राना 19 शताब्दी की मेक्सिको की रहने वाली महिला थी जिनके न सिर्फ शरीर पर बहुत बाल थे बल्कि उनकी नाक और दांत भी अजीब थे। उनके मुंह के कारण वे गोरिल्ला जैसी दिखती थीं। हैरानी की बात तो यह है कि उन्होंने खुद को ही प्रदर्शनी पर लगाया था।
  6. फेडोर जेफ्टीच्यू को जो द डॉग फेस्ड बॉय कहा जाता था यानि कुत्ते के जैसा मुंह बाला लड़का। अच्छा नेचर होने के बावजूद लोग उन्हें समझते नहीं थे। उन्होंने अपने आप को अपने पैरों पर खड़ा किया और शोहरत हासिल की।
  7. 1891 में जन्में स्टीफन बिबरोस्की शेर जैसे चेहरे वाले व्यक्ति के नाम से मशहूर थे। उनका पूरा शरीर लंबे बालों से ढका था, जिसके कारण वे शेर जैसे दिखते थे। उनकी मां का मानना था कि जब वे गर्भवती थीं तो उनके पति शेर से लड़ते वक्त पराजित हो गए थे। इसी कारण जब स्टीफन पैदा हुए तो उनका यह हाल था। स्टीफन की मौत 1932 में हुई।
  8. परसिला बेजानो बचपन से ही अपने अत्यधिक बालों के कारण आकर्षण का पात्र थीं। जब वे बच्चीं थे तो उनके माता पिता उन्हें डॉक्टर को दिखाने के लिए न्यू यॉर्क भी ले गए थे लेकिन कुछ फायदा नहीं हुआ। उनकी 2001 में मौत हो गई थी।
+