डायरेक्टर ने उर्फी जावेद को दी एडल्ट फिल्मों में काम करने की सलाह, पढ़िए पूरी खबर।

उर्फी जावेद अक्सर ही सुर्खियों में बनी रहती है वे कभी तो अपनी ड्रेस इसके चलते सुर्खियों में बनी रहती है तो वही कभी अपने बयानों और वायरल वीडियो के चलते वह सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बनी रहती है, उर्फी सोशल मीडिया पर काफी ज्यादा एक्टिव रहती है और अक्सर ही अपने फ्रेंड्स के साथ अपनी फोटोस को साझा करती रहती हैं जिसमें उनके साथ भी उन पर काफी प्यार लुटाते हैं और काफी प्रतिक्रियाएं भी देते हैं इस बार उर्फी अपने एक बयान के चलते फिर से सुर्खियां बटोर रही हैं आज इस आर्टिकल में हम आपको उसी बयान के बारे में बताने जा रहे हैं कि उर्फी ने क्या कहा।

उर्फी को दी एडल्ट फिल्मों में काम करने की सलाह।

हाल ही में उर्फी ने एक बड़ा खुलासा किया है जिसमें उन्होंने बताया है कि एक डायरेक्टर ने उन्हें एडल्ट फिल्में करने की सलाह दी थी। इतना ही नहीं डायरेक्टर ने तो उर्फी से ये तक कह दिया था कि उनकी इमेज ऐसी है कि कोई भी उन्हें अच्छा काम नहीं देने वाला है। अब हर कोई उर्फी के इस बयान से काफी हैरान भी हो गया है। दरअसल हाल ही में उर्फी ने एक इंटरव्यू के दौरान ही बड़ा खुलासा किया। इस दौरान उर्फी ने बताया कि एक बार उन्हें एक डायरेक्टर ने कहा था कि उनकी इमेज काफी बुरी बनी हुई है। जिस वजह से उन्हें टीवी में कोई काम नहीं देने वाला है। वहीं उर्फी के मुताबिक निर्देशक ने उनसे कहा था कि इंडस्ट्री उन्हें अपनाने के लिए तैयार नहीं है और उन्हें टीवी में काम नहीं मिलेगा क्यूंकि उनकी इमेज काफी गंदी है।

जब डायरेक्टर ने अभिनेत्री से बोला कि उनकी इमेज गंदी है तो अभिनेत्री ने उनसे यह पूछा कि गंदी से आपका क्या मतलब है तो वहीं डायरेक्टर ने उनको बताया कि कोई भी उनको टीवी में काम नहीं देगा क्योंकि उनकी इमेज सही नहीं है इसीलिए उनको एडल्ट वेब सीरीज में अपना हाथ आजमाना चाहिए। वहीं उर्फी के अनुसार उन्होंने डायरेक्टर से कहा कि उन्हें इंटीमेटसीन्स करने में असहजता होती है।

दरअसल उर्फी हमेशा ही अपने ड्रेसिंग सेंस को लेकर चर्चा का विषय बनी ही रहती हैं। ऐसे में उर्फी ने इंटरव्यू के दौरान ये भी कहा कि लोग उन्हें उनके कपड़ों से जज करते हैं लेकिन उन्होंने ऐसा न करने की अपील की। उर्फी का कहना है कि वे तो लोगों को जज नहीं करती हैं तो लोग उन्हें क्यों जज कर रहे हैं। अभिनेत्री के मुताबिक वे इन सब बातों को इग्नोर करती हैं और उन्हें जो पसंद है वे वही काम करती हैं। वहीं उर्फी का मानना है कि लड़की को उसके कपड़ों से जज करना गलत धारणा है जिसे बदलना भी बेहद जरूरी है।

+