कभी कूली और बस कंडक्टर का काम करते थे और आज के फिल्मी जगत के सबसे बड़े सितारे।

रजनीकांत एक ऐसा नाम है जिसको भारत में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में जाना जाता है उनके अपने अभिनय के लिए और खास करके उनके एक्शन सींस के लिए रजनीकांत को पूरी दुनिया में जाना जाता है और उनको लोगों से भी काफी ज्यादा प्यार मिलता है रजनीकांत एक ऐसे कलाकार हैं जिन्होंने फिल्मों से काफी इज्जत कमाई पैसा भी कमाया और उस पैसे से वह दान दक्षिणा भी दिल खोलकर करते हैं आज हम इस आर्टिकल में आपको बताएंगे रजनीकांत के जीवन के बारे में कि कैसे उन्होंने एक मध्यमवर्गीय परिवार से आकर देश के सबसे बड़े फिल्मी जगत के कलाकार बने।

 

रजनीकांत की फैन फॉलोइंग दक्षिण भारतीय सिनेमा हिंदी सिनेमा में ही नहीं बल्कि विश्व भर में उनको लोग खूब प्यार करते हैं और उनकी फिल्मों को देखने के लिए हमेशा ही उत्सुक रहते हैं जब रजनीकांत का जन्म हुआ तो उनके माता-पिता ने उनको शिवाजीराव नाम दिया था और उनका पूरा नाम शिवाजीराव गायकवाड था मगर फिल्मी दुनिया में आने के बाद उनका नाम रजनीकांत हो गया था रजनीकांत का जन्म 12 दिसंबर 1950 में बैंगलोर हुआ था और उन्होंने 25 साल की उम्र में ही अपना फिल्मी डेब्यू कर लिया था जिसके बाद उनको काफी ज्यादा लोगों से प्रशंसा मिली और उनके हौसले और भी ज्यादा बुलंद हो गए अपने फिल्मी करियर को लेकर।

 

रजनीकांत अपने फ्रेंड्स के बीच थलाइवा नाम से लोकप्रिय हैं, आपको बता दें कि जब रजनीकांत की मां का निधन हुआ था तब उनका परिवार टूटने लगा था और अपने परिवार को टूटता देखते हुए रजनीकांत ने बहुत ही छोटी उम्र से ही काम करना शुरू कर दिया था और वह कुली का भी काम किए थे साथ ही साथ उन्होंने बस कंडक्टर का भी काम किया था रजनीकांत को हमेशा से ही अभिनय में दिलचस्पी थी जिसको देखते हुए उन्होंने अभिनय स्कूल में भी अपना दाखिला करवाया था और उन्होंने एक्टिंग में डिप्लोमा भी प्राप्त किया है।

 

साल 1975 में रजनीकांत की पहली फिल्म रिलीज हुई थी अपूर्व रंगन जिस ने बॉक्स ऑफिस पर सही पैसे कमाए थे जिसके बाद रजनीकांत के हौसले और भी बुलंद हो गए और उन्होंने दक्षिणी भारतीय सिनेमा में और भी कई सारी फिल्में करीब जिसके बाद उन्होंने हिंदी फिल्मों में भी अपना हाथ आजमाया और उनको लोगों से बहुत प्यार मिला और वह इंडिया के सबसे बड़े कलाकारों में से एक बन गए।

+