बधाई: चमोली के भानू ने किया प्रदेश का नाम रोशन, JEST में हासिल की 49वीं रेंक, मिल रहे बड़े ऑफर

उत्तराखंड के बच्चे हर क्षेत्र में अपना लोहा मनवा रहे हैं। इसी कड़ी में प्रदेश का नाम रोशन करने वालों में राजकीय इंटर कॉलेज श्रीनगर के पूर्व छात्र भानु प्रताप चौहान का नाम जुड़ गया है। भानू ने देश के प्रतिष्ठित विज्ञान संस्थानों में चयनित होकर उत्तराखंड का नाम रोशन किया है। भानु की इस उपलब्धि पर उनके स्कूल सहित क्षेत्र में खुशी की लहर है। वहीं प्रदेश को इस होनहार छात्र पर गर्व है। भानू की कामयाबी से उन्हें बधाई देने वालों का तांता लग गया है।

आपको बता दें कि चमोली जिले के आलकोट गांव के भानु ने कड़ी मेहनत और लगन से JEST (ज्वाइंट एंट्रेंस स्क्रीनिंग टेस्ट) में ऑल इंडिया 49वीं रैंक हासिल की है। उन्होंने इसी साल 25 जुलाई को JEST की परीक्षा दी थी। भानु के पिता महावीर चौहान श्रीनगर एसएसबी (सीटीसी सेंटर) में एसआई के पद पर कार्यरत हैं।

भानु ने सरस्वती विद्या मंदिर श्रीकोट से 10वीं तक की पढ़ाई की है। जबकि उन्होंने राजकीय इटर कॉलेज श्रीनगर से 12वीं की है। इसके बाद उन्होंने अपना ग्रेजुएशन हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विवि से किया है। भानु प्रताप आगे वैज्ञानिक बनकर देश का नाम रोशन करना चाहते हैं। जिसके लिए वह कड़ी मेहनत कर रहे हैं। उन्होंने JEST (ज्वाइंट एंट्रेंस स्क्रीनिंग टेस्ट) में ऑल इंडिया 49वीं रैंक हासिल की है।

इसी के तहत भानु को देश के दो संस्थान टीआईएफआर (टाटा मूलभूत अनुसंधान संस्थान) हैदराबाद और एचआरआई (हरीश चंद्र अनुसंधान संस्थान) प्रयागराज ने इंटीग्रेटेड एमएससी-पीएचडी करने का ऑफर दिया है। इससे पूर्व उनका चयन जेम के जरिए एनआईटी राउरकेला, उड़ीसा में एमएससी वायुमंडल विज्ञान के लिए भी हो चुका है। उनकी कामयाबी से प्रदेश गौरवान्वित महसूस कर रहा है। पहाड़ के बच्चे ऐसे ही प्रदेश का नाम रोशन करते रहे।

+