टिहरी झील के ऊपर बनेगा चीन जैसा ग्लास ब्रिज, उठा सकेगें 'स्काई वॉक' का अनुभव - Shubh Network

टिहरी झील के ऊपर बनेगा चीन जैसा ग्लास ब्रिज, उठा सकेगें ‘स्काई वॉक’ का अनुभव

उत्तराखंड में विकास हो रहा है। जहां रेलवे स्टेशन को व्लर्ड क्लास बनाया जा रहा है। वहीं अब ग्लास ब्रिज भी बनाने की योजना बनाई जा रही है। इस योजना के तहत टिहरी झील के ऊपर चीन के तियानमेन का ग्लास ब्रिज बनाया जाएगा। ये पुल 800 करोड़ की लागत से तैयार होगा। ये ब्रिज बनता है तो टिहरी को पर्यटन में नई ऊंचाइयां मिलेंगी। इससे राज्य का राजस्व भी बढ़ेगा।

बता दें कि दुनिया भर से पयर्टक प्रसिद्ध ग्लास ब्रिज में स्काई वॉक का आनन्द लेने के लिए चीन घूमने आते है। ये ब्रिज लोगों की पहली पसंद है। ऐसा ही ग्लास ब्रिज टिहरी झील के ऊपर बनाने की योजना है। योजना के तहत टिहरी झील विकास के अन्तर्गत मदननेगी से धारकोट के बीच ग्लास ब्रिज का निर्माण के साथ ही टिपरी रोपवे का सुंदरीकरण व आधुनिकीकरण का काम होना है। टिहरी झील के ऊपर 800 करोड़ की लागत से चीन के हुनान प्रांत में बने ग्लास ब्रिज की तर्ज पर ब्रिज बनेगा।

आपको बता दें कि तियानमेन माउंटेन नेशनल पार्क में दो चोटियों को जोड़ने वाले 1410 फीट लंबे और छह मीटर चौड़े ग्लास ब्रिज की तर्ज पर टिपरी मदननेगी में पारदर्शी ग्लास ब्रिज का निर्माण किया जाएगा। इसकी डीपीआर वैपकोस की टीम के द्वारा बनाने का काम चल रहा है। साथ ही टिहरी झील के बीच रौलाकोट के सामने रमोला गढ़ टापू के ऊपर विशाल भगवान शिव की मूर्ति लगाई जाएगी।

गौरतलब है कि बिहार में भी देश का दूसरा और पूर्वोतर भारत का पहला ग्लास ब्रिज बिहार में बना है। अंतरराष्ट्रीय पर्यटन स्थल राजगीर के नेचर सफारी में ग्लास ब्रिज को बनाया गया है। राजगीर का नेचर सफारी बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का ड्रीम प्रोजक्ट है।

 

+