इतने करोड़ों की संपत्ति के मालिक हैं द ग्रेट खली ,कभी करते थे ₹5 के लिए भी मजदूरी।।

एक व्यक्ति को अपने जीवन में हमेशा सकारात्मक सोच रखनी चाहिए वह इसी के साथ आगे भी बढ़ना चाहिए हार और जीत तो जीवन का सिर्फ एक हिस्सा है। वह इंसान को हमेशा प्यार प्रयास करते रहना चाहिए। फिर रास्ते में चाहे कितनी भी कठिनाई क्यों ना हो जीवन में उतार-चढ़ाव तो आते ही रहते हैं परंतु उन सभी प्रकार की मुश्किलों का भय हम प्रभारी नहीं होना चाहिए और हमें मेहनत करनी नहीं छोड़नी चाहिए। हमेशा परिश्रम करने वालों की कभी हार नहीं होती ऐसा ही है जीता जागता उदाहरण , भारत के ग्रेट खली है। खली का असली नाम दिलीप सिंह राणा है ।आज के समय में खली सिर्फ भारत में ही नहीं परंतु विदेशों में भी एक अच्छी खासी फैन कॉलेज रखते हैं।

स्कूल से बेइज्जत कर निकाल गया बाहर

दिलीप सिंह राणा को आज पूरा विश्व द ग्रेट खली के नाम से जाना जाता है उन्होंने डब्ल्यूडब्ल्यूई फाइट में भारत की ओर से भाग लेकर अपने देश का नाम पूरे विश्व में रोशन किया है वह द ग्रेट खली पर अभी हाल ही में एक किताब लिखी गई है जिसका शीर्षक ” द मैन हु बीकेम खली है”। हम सभी आप को यह बात बता दें कि खली सिर्फ डब्ल्यूडब्ल्यूई में नहीं परंतु उसके बाद भी बहुत से रियलिटी शो का हिस्सा बन चुके हैं। खली ने अपनी किताब में अपने जीवन के विषय में बहुत कुछ बताया है और कहा है कि एक समय ऐसा भी था जब उनके पास उनकी जेब में ₹1 भी नहीं था और उनको अपने स्कूल की फीस देनी थी उस समय ही उनके स्कूल की फीस लगभग ढाई रुपए थी वह आपको यह बात जानकर हैरानी होगी की सन 1979 की गर्मियों छुट्टियों के बाद द ग्रेट खली को उनके स्कूल से बाहर निकाल दिया गया क्योंकि उनके घर वालों के पास उनकी फीस भरने के लिए पैसे नहीं थे कली को फीस ना भरने के कारण स्कूल शिक्षक ने भरी सभा के सामने अपमानित भी किया था उसके बाद उन्हें बेहद बुरा लगा था आर्यमान वह बर्दाश्त भी नहीं कर पाए थे इसके बाद से ही खली ने स्कूल से अपना सारे रिश्ते नाते तोड़ लिए थे फिर वह कभी स्कूल वापस नहीं गए। इसके कुछ समय बाद ही उन्होंने बॉडीबिल्डिंग करनी शुरू कर दी और विश्व भर में अपना नाम बना लिया।

राष्ट्रपति ने बुलाया था अपने घर

यह बात शायद बहुत कम ही लोगों को पता होगी कि दिलीप सिंह राणा और द ग्रेट खली सन 1997 और 98 में मिस्टर इंडिया भी रह चुके हैं आपको बता दें कि द ग्रेट खली के प्रतिभा से भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ एपीजे अब्दुल कलाम बेहद प्रभावित हुए थे उन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान सन 2005 में द ग्रेट खली को राष्ट्रपति भवन बुलाया था और उनसे मुलाकात भी की थी।एक समय ऐसा था जब खली की जेब में फीस भरने के लिए ₹1 नहीं था व उन्हे ₹5 कमाने के लिए भी मजदूरी करनी पड़ी थी परंतु आज द ग्रेट खली की संपत्ति लगभग 96 करोड रुपए है।

+