हाथों में मेहंदी सजाए दुल्हन करती रह गई इंतजार, पर नहीं पहुंची बारात, धरी रह गई सारी तैयारियां - Shubh Network

 हाथों में मेहंदी सजाए दुल्हन करती रह गई इंतजार, पर नहीं पहुंची बारात, धरी रह गई सारी तैयारियां

उत्तराखंड में भी अब दहेज के लोभी पैर पसारते जा रहे है। शादी के दिन आखिर वक्त में जब हाथों में मेहंदी सजाए दुल्हन बरात का इंतजार कर रही हो और बारात न आए वो भी दहेज की मांग को लेकर तो आप सोच सकते है। कि उस दुल्हन और उसके मां बाप पर क्या बीतेगी। ऐसी ही घटना हल्द्वानी से सामने आई ।जहां दहेज लोभियों ने मोटरसाइकिल नहीं मिलने से शादी से इंकार कर दिया। हालत यह रही कि सुबह से लेकर देर शाम तक दुल्हन व उसके स्वजन इंतजार में बरात घर में बैठे रह गए। बरातियों के स्वागत के लिए सारे इंतजाम धरे रह गए।

बता दें कि 26 जून को दोपहर 12 बजे बनभूलपुरा थाना क्षेत्र निवासी अरशद अली की बेटी आशिया की शादी बिलासपुर, रामपुर निवासी आसिफ खान के साथ होनी थी। शादी संबंधी कार्ड भी बांटे जा चुके थे।  जिसके लिए चोरगलिया रोड स्थित मैरिज हॉल में सारी तैयारियां की गई थी। खाने-पीने के सारे इंतजाम मौके पर किए गए थे। जिसमें रस्म अदायगी के लिए बरात का इंतजार बेसब्री से किया जा रहा था। लेकिन तभी वर पक्ष ने बाईक की मांग रख दी और बाईन न देने पर बारात  लाने से इंकार कर दिया।

दुल्हन के पिता के पास बाईक का इंतजाम नहीं हो पाया वर पक्ष से बात भी की बारातघर में दुल्हन तैयार बैठी रह गई लेकिन  दहेज का पूरा इंतजाम होने तक वर पक्ष ने शादी से मना कर दिया है।देर शाम तक बरात नहीं पहुंचने पर घरातियों के सब्र का बांध टूटने लगा।आखिर वक्त में परेशान होकर दुल्हन पक्ष ने पुलिस को बनभूलपुरा थाने पहुंचकर पुलिस को तहरीर सौंपी। वहीं अब बारात न आने से क्षेत्र में शादी कौतुहल का विषय बन गई है।

+