IPL 2022 में अर्जुन को नहीं खेलता देखना चाहते पिता सचिन तेंदुलकर , वजह जान कर आप हो जाएंगे हैरान ।

आईपीएल को इंडिया का क्रिकेट वाला त्यौहार भी कहा जाता है इस क्रिकेट के महाकुंभ के लिए खिलाड़ियों की नीलामी पूरी हो चुकी है और पूरी दुनिया भर की टीमों में से है कई दिग्गज कलाकारों को 10 टीमों द्वारा खरीदा गया है। इन सभी के दौरान बहुत से दिग्गज और जाने-माने चेहरों के साथ-साथ कई उभरते हुए क्रिकेटरों के चेहरे पर मुस्कान देखने को मिली। वहीं दूसरी ओर बहुत से नामी और दिग्गज क्रिकेटर ऐसे भी देखने को मिले जिन्हें कोई बोली लगाने वाला तक भी नहीं मिला।
आईपीएल की शुरुआत साल 2007 में हुई और इस बार हमें जल्द ही, आईपीएल का 15 वा सीजन देखने के लिए मिलने वाला है।

पिता का स्थान लेते हुए आएंगे नज़र

आई पी एल 2022 में है सिर्फ आठ नहीं परंतु 10 टीम होगी जिनमें की लखनऊ और गुजरात की टीम पहली बार आईपीएल में कदम रखेंगी। इस साल मुंबई इंडियंस की टीम में एक ऐसे खिलाड़ी को खरीदा गया जिनके पिता को क्रिकेट का भगवान कहा जाता है जी हां आप सही समझ रहे हैं हम बात कर रहे हैं अर्जुन तेंदुलकर की जो कि सचिन तेंदुलकर के बेटे हैं इस साल के ऑप्शन में अर्जुन तेंदुलकर को मुंबई इंडियंस टीम के द्वारा ₹300000 में खरीदा गया है इससे पहले सचिन तेंदुलकर भी मुंबई इंडियंस के लिए खेल चुके हैं और अर्जुन पहले से खिलाड़ी बन गए हैं जो किसी टीम में अपने पिता की जगह ले रहे हैं।

इस वजह से सचिन ने किया मैच देखने से इंकार

इस विश्व में सभी माता-पिता अपने बच्चों को तरक्की करता हुआ देखना चाहते हैं इसी तरह सचिन तेंदुलकर भी अर्जुन को एक बड़ा क्रिकेटर बंधा हुआ देखना चाहते हैं। परंतु क्या आप यह बात जानते हैं कि सचिन तेंदुलकर अपने बेटे का मैच नहीं देखना चाहते ऐसा इसलिए क्योंकि उनका कहना है कि वह नहीं चाहते कि जब उनका बेटा मैदान पर हो तो वह अपने पिता को देखकर होप्लेस महसूस करे।

अर्जुन को एक सुलझा क्रिकेटर बनाना चाहते हैं सचिन

सचिन अर्जुन को आजादी से मैच खेलने का मौका देना चाहते हैं और वे चाहते हैं कि अर्जुन मैच अपने अनुसार खेलें अर्जुन तेंदुलकर लेफ्ट आर्म बॉलर हैं। और वे जरूरत पड़ने पर एक ऑलराउंडर बैट्समैन और बॉलर की भूमिका निभा सकते हैं। मैं फिलहाल तो मुंबई रणजी ट्रॉफी खेल रहे हैं।

+