दिल्ली पहुंचने वाले हैं रैपिड ट्रेन के डिब्बे, अब मिनटों में तय होगा घंटों का सफर - Shubh Network

दिल्ली पहुंचने वाले हैं रैपिड ट्रेन के डिब्बे, अब मिनटों में तय होगा घंटों का सफर

दिल्ली में भी यातायात सुविधाओं को मजबूत करने का काम किया जा रहा है. वहीं दिल्ली को दूसरे राज्यों से जोड़ने का काम तेजी से चल रहा है. इस बीच रैपिड रेल का काम भी तेजी से किया जा रहा है। यह रैपिड ट्रेन दिल्ली और मेरठ के बीच ही चलने वाली है, जिसकी तैयारी तेजी से की जा रही है. हाल ही में रैपिड रेल का एक ट्रेन सेट सड़क मार्ग से गाजियाबाद होते हुए दिल्ली पहुंचने वाला है।

 सड़क मार्ग से पहुंची ट्रेन का सेट

इस ट्रेन सेट को सड़क मार्ग से ट्रक में लादकर गाजियाबाद पहुंचाया गया है. आगे का काम जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा और जल्द ही इस रूट पर रैपिड रेल सेवाएं भी उपलब्ध करा दी जाएंगी। ये रैपिड ट्रेनें हाई स्पीड ट्रेनों की तरह ही गति से चलेंगी। इस रैपिड रेल का संचालन भी पहले चरण में 2023 तक शुरू हो सकता है।

 सड़क मार्ग से रैपिड रेल का पहला सेट

हाल ही में खबर आ रही है कि रैपिड रेल का पहला सेट सड़क मार्ग से गाजियाबाद पहुंच गया है. यह ट्रेन सेट दुहाई डिपो पहुंचा दिया गया है। हाल ही में इस रैपिड रेल की तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं जिसकी हर तरफ चर्चा हो रही है. रैपिड रेल ट्रांजिट सिस्टम एनसीआरटीसी द्वारा ही विकसित किया जा रहा है। ये ट्रेनें हाई स्पीड रेल में भी शामिल हैं।

सराय काले खां से चलेगी रैपिड ट्रेन

यह रैपिड ट्रेन सराय काले खां-गाजियाबाद-मेरठ कॉरिडोर पर ही चलाई जानी है। यह ट्रेन साहिबाबाद और दुहाई के बीच संचालित की जानी है। माना जा रहा है कि 2023 तक इस ट्रेन का संचालन भी शुरू हो जाएगा। यह प्रोजेक्ट तेजी से तैयार किया जा रहा है।

180 किमी . की रफ्तार से दौड़ेगी ट्रेन

कहा जा रहा है कि रैपिड ट्रेन भी तेज रफ्तार से चलने वाली है. यात्रियों के लिए भी यह काफी आसान होने वाला है। यह ट्रेन अधिकतम 180 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकती है। दूसरी ओर, औसत L 100 किमी प्रति घंटे की गति से दौड़ने वाला है। कहा जा रहा है कि दिल्ली से मेरठ का सफर ट्रेन से 60 मिनट में किया जा सकता है जिसके बीच यात्री खूबसूरत नजारों का भी लुत्फ उठा सकते हैं. पहले चरण के 2023 तक चालू होने की उम्मीद है।

 

+