पहाड़ों से बरस रही 'मौत', गंगोत्री हाइवे में भूखे प्यासे फंसे सैकड़ों यात्री, जौनसार बावर की लाइफलाइन बंद - Shubh Network

पहाड़ों से बरस रही ‘मौत’, गंगोत्री हाइवे में भूखे प्यासे फंसे सैकड़ों यात्री, जौनसार बावर की लाइफलाइन बंद

उत्तराखंड में इन दिनों बारिश का कहर देखने को मिल रहा है। खौफनाक भूस्खलन की तस्वीरे सामने आ रही है। पहाड़ों से मानो मौत बरस रही हो। जौनसार बावर की लाइफ लाइन कहा जाना वाला कालसी-चकराता मोटर मार्ग भी लाल पुल के पहाड़ी दरकने के बंद हो गया है। वहीं ऋषिकेश-गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग 94 कांडीखाल के समीप भूस्खलन हो गया है। इससे सुबह 6 बजे से सड़क बंद हो गई है। सैकड़ों यात्री भूखे प्यासे फंसे हुए हैं। बंद सड़क अभी तक नहीं खोली जा सकी है।

बताया जा रहा है कि ऋषिकेश-गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग 94 कांडीखाल के पास बंद हो गया। नेशनल हाईवे बंद होने से उसके दोनों ओर बड़ी संख्या में वाहन फंस गए। रोड नहीं खुलने से यात्री परेशान हैं। यात्रियों के साथ भूखे-प्यासे बच्चे भी परेशान हैं। बीआरओ का कोई मुलाजिम सड़क खोलने के लिए मौके पर नहीं है। इस कारण एनएच पर फंसे यात्री परेशान हैं। आपदा प्रबंधन विभाग की तरफ से इन भूखे-प्यासे यात्रियों के लिए कोई सुविधा नहीं दी गई है।

आपको बता दें कि पहाड़ी से पत्थर गिर रहे हैं। भारी भरकम बोल्डर व मलबा आने से मार्ग बंद हो गया। इसी वजह से सड़क के दोनों और वाहनों की लंबी कतारें लग गई हैं। हालांकि लोक निर्माण विभाग मार्ग को खोलने की कोशिश कर रहा है। तड़के तीन बजे से लाल पुल के पास सड़क बंद हो गई थी। तब से वो यहीं पर फंसे हुए हैं।मंगलवार को भी लाल पुल के पास ही एक बड़ा सा बोल्डर यात्रियों से भरे मैक्स वाहन पर गिर गया था। इस हादसे में आठ लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे।

+