उत्तराखंड में सुबह सुबह भूकंप से डोली धरती, घरों से भागे लोग, मचा हड़कंप

उत्तराखंड में प्रकृति का प्रकोप देखने को मिल रहा है। जहां एक ओर बारिश का कहर दिख रहा है। भूस्खलन की खौफनाक तस्वीरे सामने आ रही है। इस बीच अब भूकम्प के झटकों से लोग के दिल मे दहशत बैठ गई है। शनिवार की सुबह चमोली की धरती भूकंप से कांप उठी। भूकंप का झटका तेज था, इससे लोग घरों से भी बाहर निकल गए। आज सुबह 5.58 बजे की धरती कांप उठी। भूकंप का केंद्र चमोली जिले के जोशीमठ में जमीन के भीतर करीब पांच किलोमीटर नीचे बताया जा रहा है।

बताया जा रहा है कि रिक्‍टर स्‍केल पर भूकंप की तीव्रता 4.7 मैग्नीट्यूड रही। भूकंप के तेज झटका चमोली के अलावा अन्य जिलों में महसूस किए गए। ऐसे में सुबह भूकंप के झटके महसूस होते ही इलाके में हड़कंप मच गया।कई लोग खौफ से अपने घरों से बाहर निकल आए। उधर, रुद्रप्रयाग, बागेश्वर और उधम सिंह नगर में भी इसका असर देखा गया। बारिश भूस्खलन और अब भूकम्प से लोग खौफ में है। हालांकि अभी भूकंप से नुकसान की कोई सूचना नहीं है। लेकिन लोगों को दिल में बार फिर वर्ष 1999 के चमोली भूकंप की याद ताजा हो गई।

आपको बता दें कि उत्तराखंड अपनी विषम भौगोलिक परिस्थितियों के चलते आपदा से जूझता रहा है. भूकंप के लिहाज से उत्तराखंड को बहुत संवदेनशील माना गया है।  प्रदेश में छोटे भूकंप आते रहते हैं। प्रदेश को जोन चार और पांच में रखा गया है। पिछले माह देहरादून में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। बार बार आ रहे ये हल्के झटके बड़े भूकंप का संकेत भी हो सकते है।

+