सराहनीयः दून की तीन बेटियां पेश कर रही मिसाल, स्कूल की पढ़ाई के साथ जरूरतमंदों की कर रही मदद..

कुछ  करने का जज्बा हो और हौसले बुलंद हो तो परेशानियां हो या उम्र कुछ भी मायने नहीं रखता । अपने हौसलों के दम पर आप सब कुछ हासिल कर समाज में एक मिसाल पेश कर सकते है। इसे साबित कर दिखाया है दून की तीन बेटियों में … ये बेटियां न सिर्फ पढ़ाई मे अव्वल है बल्कि जरूरतमंदों की मदद के लिए भी आगे है। जहां एक तरफ लोग कोरोना के कहर के बीच घर में थे वहां ये बेटियां शहर घूमकर जरूरतमंदों को राशन, मास्क, सैनिटाइजर समेत अन्य जरूरत का सामान वितरित कर रही थी।

आपको बता दें कि वरण्या गुप्ता, तमन्ना नरूला और याशिता लाल दून के प्रतिष्ठित स्कूलों में पढ़ाई कर रही है।वरण्या गुप्ता, ब्राइटलैंड स्कूल में 12वीं कक्षा और याशिता सेंट जोजफ्स,तमन्ना कान्वेंट आफ जीजस मैरी में पढ़ती हैं। वरण्या अपने परिवार के साथ नेशविला रोड पर रहती हैं। उनके पिता नितिन गुप्ता और मां बरखा गुप्ता, दोनों व्यवसायी हैं। तमन्ना डालनवाला में रहती हैं। उनके पिता ज्योति नरूला व्यवसायी हैं और मां हरदीप नरूला गृहिणी। याशिता तिलक रोड क्षेत्र में रहती हैं। उनके पिता नितुज लाल टैक्स कंसलटेंट हैं और मां स्मृति लाल आर्ट गैलरी चलाती हैं।

वरण्या ने अपनी दोस्त तमन्ना और याशिता के साथ मिलकर मेलो नाम की संस्था चला रही है। कोरोना काल में लोगों की परेशानियां इन सहेलियों से देखी न गई और इन्होंने कुछ करने की थानी और बस शुरू हो गई। कई लोगों को राशन, मास्क, सैनिटाइजर समेत अन्य जरूरत का सामान वितरित  किया है और कर रही है। इतना ही नहीं अब इनकी संस्था रक्तदान शिविर आयोजित कर अस्पतालों में खून की कमी दूर करने का प्रयास भी करेगी।  इनके इस कार्य की हर कोई सराहना कर रहा है। और उनके उज्जवल भविष्य की कामना करता है।

+